रविवार, 3 अगस्त 2014

उक्ति - 52

बड़ी बातें सीखने से पहले छोटी-छोटी बातों को ध्‍यान से देखना, सुनना व उन पर मनन करना सीखना चाहिए। प्राय: इस अभ्‍यास की कमी से सच्‍चे विद्वानों की बड़ी बातों का अनुसरण नहीं हो पाता।

4 टिप्‍पणियां:

  1. बिलकुल सहमत हूँ इस बात से ... आदत/अभ्यास का होना जरूरी है ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. यह बात कुछ उसी तरह है कि जीवन में खुश रहने के लिए छोटी-छोटी खुशियों को सहेजा जाना चाहिए न कि किसी बड़ी खुशी के इंतज़ार में पूरा जीवन अवसाद में गुज़ार देना। अर्थात छोटी छोटी बातों पर ध्यान देने से ...कभी-कभी किसी बड़ी समस्या का हल भी निकल सकता है मगर कोई इस अभ्यास का अनुसरण करे तब ना ...

    उत्तर देंहटाएं